विश्वास करें और सबकुछ प्राप्त करें

आज बहुत सारे लोग अपनी जरूरत को पुरी करने के लिए प्रत्येक दिन संघर्ष करते है। मगर परमेश्वर का वचन आपको परमेश्वर का वारिस और मसीह का संगी वारिस कहता है। मसीह जो पुरे संसार का मालिक है, उसमें आपकी विरासत है।


इससे कोई फ्रक नहीं पड़ता की आप कौन है, कहाँ से आए है या फिर आपकी अतीत कैसी थी। यीशु ने किमत चुकाकर न केवल आपको अनंतकाल का जीवन दिया मगर स्वर्ग राज्य के हरेक आशीषों का वारिस भी बना दिया। बाइबल बताती है कि “यह इसलिये हुआ कि अब्राहम की आशीष मसीह यीशु में अन्यजातियों तक पहुँचे”(गलातियों 3:14)। याद रखें की यीशु के बलिदान के द्वारा न केवल आपको पापो की क्षमा प्राप्त हुई है मगर आपको एक ऐसे टहनी से जोड़ दिया गया है, जो की आशीष का मुल है। ?


हो सकता है कि आप गरीब थे, हो सकता है कि आ शापित थे, हो सकता है कि आपकी परवरिश सही से नही हुई हो, हो सकता है कि आप योग्य के नही थें। मगर अब यह बातें नए प्राणी के लिए कोई मायनें नहीं रखती है। अब तो आपको एक नई टहनी से जोड़ दिया गया है; जिसका परिणाम केवल आशीष, भरपुरी और शांति है।

आप अब्राहम के बीज है; आपका धन और आपकी सृमद्धि प्रभु यीशु मसीह में है; यही आपकी सच्चाई है। बाइबल हमें बताती है कि “पृथ्वी और जो कुछ उस में है यहोवा ही का है, जगत और उस में निवास करनेवाले भी”(भजन 24:1)। यह विश्वास करने की हिम्मत करें कि यह संसार आपकी है। यही तो मरकुस 9ः23 में लिखी गयी है; अगर आप विश्वास करेंगे तो यह आपके जीवन में प्रकट होकर रहेंगी।


बाइबल बताती है कि अब्राहम“…न अविश्वासी होकर परमेश्वर की प्रतिज्ञा पर संदेह किया, पर विश्वास मंे दृढ़ होकर परमेश्वर की महिमा की”(रोमियों 4:20)। उसे धन कैसे प्राप्त हुआ? परमेश्वर का वचन बताता है कि परमेश्वर ने उसे आशीष दीः “…मैं तुझे आशीष दूँगा और तेरा नाम महान् करूँगा और तू आशीष का मूल होगा। जो तुझे आशीर्वाद दें, उन्हें मैं आशीष दूँगा; और जो तुझे कोसे, उसे मैं शाप दूँगा; और भूमण्डल के सारे कुल तेरे द्वारा आशीष पाएँगे”(उत्पत्ति 12:2-3)।

आप उत्पत्ति 13:2, उत्पत्ति 24:5 और गलातियों 3:9 भी पढ़ सकते हैं। इन वचनों पर और परमेश्वर के सारें वचनों पर विश्वास करें की यह मसीह में आपकी विरासत है। जो परमेश्वर कहता है कि वह है, उस पर विश्वास करें, जो परमेश्वर कहता है कि आपके पास है, उस पर विश्वास करें, और जो परमेश्वर कहता है कि आप बन सकते है, उस पर विश्वास किजिए। अपने आप को इस विवेक से भर दे और फिर आप अपने जीवन को सृमद्धि में पाऐंगे।

प्रार्थना और घोषणा


प्यारे पिता, मैं अपने जीवन के लिए आप पर भरोसा कर सकता हूँ कि जो कुछ मैंने आपको दिया है वह सभी आप में सुरक्षित है। मुझे आपनें इस संसार के सड़ाहट से अलग और सुरक्षित रखा गया है, और मेरी समृद्धि अनंतकाल के लिए कर दी है। मैं आपकी आशीषों और धार्मिकता के विवेक में चलता हूँ, यीशु के नाम से, आमीन !

HAVE FAITH, HAVE EVERYTHING

Many today are struggling and toiling every day to make ends meet. But the Word declares that you’re an heir of God and a joint-heir with Christ. You have an inheritance in Christ, who owns the world and all that’s in it.

It doesn’t matter who you are, where you came from or even what your past was like. Jesus paid the price and not only he gave you eternal life but also made you co-hair with himself. Now you are the heir of all the blessings of the Kingdom of heaven. The Bible Says that “the blessing of Abraham might come on the Gentiles through Jesus Christ;… ” (Galatians 3:14). Remember that through Jesus’s sacrifice you have not only been forgiven of your sins, but also you been attached to a branch that is the source of blessings.

Maybe you were poor, you were cursed, you weren’t brought up very well or maybe you weren’t worthy at all. But now these things do not matter for the new creature. Now you have been attached to a new branch; and the result is: Blessings, Prosperity and Peace!

You’re the seed of Abraham; your wealth and prosperity is in Christ; it’s a settled fact. The Bible says, “The earth is the LORD’S, and the fulness thereof; the world, and they that dwell therein” (Psalm 24:1). The world belongs to you; dare to believe this. That’s what we read in our opening verse; if you can believe this, it’ll be manifested in your life.

The Bible says Abraham “…staggered not at the promise of God through unbelief; but was strong in faith, giving glory to God” (Romans 4:20). How did his wealth come? The Bible says God blessed him: “…I will bless thee, and make thy name great; and thou shalt be a blessing: And I will bless them that bless thee, and curse him that curseth thee: and in thee shall all families of the earth be blessed” (Genesis 12:2-3). Also, read Genesis 13:2, Genesis 24:5, and Galatians 3:9; believe these and all of God’s Word about your heritage in Christ. Believe that God is who He says He is, He’s given you what He says He’s given you, and you have what He says you have. Arm yourself with this consciousness, and you’ll live your days in prosperity, and your years in abundance.

PRAYER & DECLARATION

Dear Father, I trust you with my life, knowing that whatever is committed to you is kept forever; I’m kept and preserved from the decadence and corruption in this world, and my prosperity is eternal. I walk in your blessings and in the consciousness of my righteousness, in Jesus’ Name. Amen.