उसे आपका युद्ध लड़ने दें!

जब समय अच्छा चल रहा हो, तो “प्रेज द लाँर्ड ! हाल्लेलुयाह!” बोलना आसन है। जब आप अपने जीवन के ऊचाई का अनुभव कर रहे हो, तो यह सोचना की परमेश्वर आप से प्यार करता है, आसान है। लेकिन उस समय क्या जब आप अपने जीवन के कठिन समय से होकर गुजर रहे हो और आप अपने शत्रुओं से घिरे हो?

हो सकता है कि आप आज अपने घटी कमी के, तंगी और बीमारी के घाटी में हो और आप पुछ रहे हो, परमेश्वर कहा है?”

मेरे प्रियों, वह आपके साथ ही है। वादीयों का परमेश्वर कहता है। “मत डर क्योंकि मैं तेरे संग हूँ, इधर उधर मत ताक, क्योंकि मैं तेरा परमेश्वर हूँ; मैं तुझे दृढ़ करूंगा और तेरी सहायता करूंगा, अपने धर्ममय दाहिने हाथ से मैं तुझे सम्हाले रहूंगा।”

जब यहोशापात अपने शत्रुओं से घिरा हुआ था, परमेश्वर की आत्मा यहजीएल के ऊपर उतरी और उसने राजा से कहा, “…तुम इस बड़ी भीड़ से मत डरो और तुम्हारा मन कच्चा न हो; क्योंकि युद्ध तुम्हारा नहीं, परमेश्वर का है। कल उनका साम्हना करने को जाना।…इस लड़ाई में तुम्हें लड़ना न होगा;…खड़े रह कर यहोवा की ओर से बचाव देखना। मत डरो, और तुम्हारा मन कच्चा न हो;…यहोवा तुम्हारे साथ रहेगा(2 इतिहास 20:15-17)”।


इसके बाद यहोशापात ने जो किया वह बहुत अद्भुद था। वह उस बुद्धि में कार्य करने लगा जो स्वर्गीय थी। योद्धाओं को आगे रखने के बजाए उसने आराधको को आगे रखा! वे आराधक क्या गा रहे थे? वे परमेश्वर के प्रेम को जो उनके प्रति थी, उसका गुनुवाद कर रहे थे-“यहोवा का धन्यवाद हो, क्योंकि उसकी करूणा सदा की ह!” और परमेश्वर ने उनके शत्रुओं का नाश किया (देखें 2 इतिहास 20ः21-23)!


प्रियों, परिक्षाए नहीं, बल्कि उन परिक्षाओ में हमारी प्रतिक्रिया हमें मजबुत बनाती है। शैतान यही तो चाहता है कि हम अपनी प्रतिक्रिया यह कह कर दे कि “परमेश्वर तु कहा है?” लेकिन परमेश्वर चाहता है कि हम उसके प्रेम और विश्वास से प्रतिऊतर दे। हम विजय से बढ़कर इसलिए नहीं है कि हम उससे प्यार करते है, बल्कि इसलिए की उसने हमे से प्यार किया है (देखें रोमियों 8:37)।


तो आप किसी भी घाटियों से होकर जा रहे हो, डरे नहीं। परमेश्वर आपके साथ है और वह आपको सामथ्र्य दे रहा है। बस आप उसके प्रेम के गीत गाना और परमेश्वर को आपके खातिर लड़ने देना है। वह आपकी लड़ाई खुद लड़ेगा!

प्रार्थना और घोषणा

धन्यवाद परमेश्वर की मुझे अपनी लड़ाई लड़ने की जरूरत नहीं हैै। परमेश्वर मेरे लिए लड़ता है! उसका प्रेम मुझे संभाले रखता है। उसके प्रेम के कारण ही मैं विजय से बढ़कर हूँ! मेरी सफलता केवल और केवल परमेश्वर की ओर से आती है, क्योंकि वह मेरे लिए लड़ता है! यीशु के नाम से आमीन!

LET HIM FIGHT YOUR BATTLE!

It is easy to say, “Praise the Lord! Hallelujah!” when times are good. It is easy to believe that God loves you when you are on the mountain top enjoying the sunshine. But what happens when you are down in the dark valley surrounded by your enemies?

Perhaps today, you are in the valley of marital, financial or bodily trouble, and you are asking, “Where is God?”

My friend, He is right there with you. The God of the valleys says to you, Fear thou not; for I am with thee: be not dismayed; for I am thy God: I will strengthen thee; yea, I will help thee; yea, I will uphold thee with the right hand of my righteousness

When King Jehoshaphat was surrounded and outnumbered by his enemies, the Spirit of the Lord came upon Jahaziel and he said to the king, “ Be not afraid nor dismayed by reason of this great multitude; for the battle is not yours, but God’s.Tomorrow go ye down against them:…Ye shall not need to fight in this battle: set yourselves, stand ye still, and see the salvation of the Lord with you, …fear not, nor be dismayed; … for the Lord will be with you.” (2 Chronicles 20:15–17).

What King Jehoshaphat did next was brilliant. He acted with wisdom from on high. Instead of putting his commandos in front, he put worshipers in front! What did the worshipers sing? They sang of God’s love for them—“Praise the Lord for His love endures forever!” And God utterly destroyed their enemies (see 2 Chronicles 20:21–23)!

Beloved, it is not the trials that make us strong, but our responses in those trials. The devil wants us to respond by asking, “Where is God?” But God wants us to respond with faith in His love for us. We are more than conquerors not because of our love for Him, but through Him who loves us (see Romans 8:37).

So whatever valley you are in today, don’t be afraid. God is there with you strengthening and upholding you. Just sing of His love for you and let Him fight your battles for you!

PRAYER & DECLARATION

Thank you Father God that I don’t have to fight my battle. God fights for me! His love keeps me safe. I am more than victorious not  because of myself but because of His love! My success comes only from Him, because he fights for me, I am always in peace ! In Jesus Name, Amen!