DONATE

एक मेम्ना एक घर के लिए

  • October 1, 2020
  • 5 Comments
निर्गमन 12:3

"...तुम अपने पितरों के घरानों के अनुसार, घराने पीछे एक एक मेम्ना ले रखो"

यहुदी पुरे संसार में फसह का र्पव मनाते है। यह एक ऐसा र्पव है जिसको कई पिढी से मनाया जा रहा है, जो इस्त्राएल का मिस्त्र देश से छुटकारे का प्रतिक है(निर्गमन12:14)। इस्त्राएलियो का मिस्त्र देश छोड़ने से पहले, नष्ट करनेवाला दूत, पुरे देश में जानवरो और मनुष्य के पहलौठे को मारते हुए चला। केवल वही लोग बचे थे, जिन्होने अपने घर के चैखट पर फसह के मेमने का लहू लगाया था।
परमेश्वर ने इस्त्राएलियो को कहा, “एक मेम्ना लेना, एक परिवार के लिए एक मेम्ना।” यह एक मेम्ना एक परिवार के लिए था। यह घटना हमे बताती है, यीशु मसीह ही हमारा फसह का मेम्ना है, जो पुरे परिवार के उद्धार के लिए है।

तो एक बार जब आप प्रभु यीशु को ग्रहण कर लेते है तो आपके बच्चे और आपके परिवार के सदष्य आशीषित है। क्योंकि यीशु आपके पुरे परिवार का मेम्ना है। आपके परिवार के वह सदष्य भी जिन्होने अभी तक प्रभु को ग्रहण नही किया है, आपके कारण आशीषो का लाभ उठाएगें। बाइबल हमे बताती है कि शुद्ध अशुद्ध को शुद्ध बनाएगा(1कुरिंथियों 7:14)। उनको तब भी वयक्तिगत रूप से यीशु को ग्रहण करना पड़ेगा। मगर परमेश्वर ने उनको उद्धार के लिए रख लिया है क्योंकि आपने उद्धार पा लिया है!

हरेक परिवार एक एक मेम्ना लेते थे जो कि परमेश्वर के अनुसार दोषरहित होने चाहिए थी। क्यों? क्योंकि वह मेम्ना यीशु का प्रतिक था, परमेश्वर का सच्चा मेम्ना, जो बिना पाप का था। युहन्ना ने यीशु के बारें मे कहा, “देखो, यह परमेश्वर का मेम्मना है, जो जगत के पाप उठा ले जाता है” (युहन्ना 1:29)।

फिर उस मेम्ने को मार कर उसके लहू को दो चैखट पर लगा दिया जाता था(निर्गमन 12:7), यही क्रुस पर हुआ। आज वह मृत्यु का दुत हरेक उन घरो से लौट रहा है, जो घराना यीशु के संपुर्ण कार्य पर विश्वास करता है, और जो लोग यीशु के लहु पर विश्वास करते है, क्योंकि उस घर में पहले ही से मृत्यु हो चुकी है। वह लहु बताती है कि दोषी परिवार के लिए दोषरहित मेम्ना बलिदान हुआ है।

यीशु ने भी क्रुस पर जाने से पहले, फसह का र्पव मनाया। मगर यीशु उससे भी बढ़कर फसह के विधी को लेकर आ रहा था। इस बार वह फिरौन और मिस्त्र से छुटकारा नही दे रहा था मगर शैतान और उसके अंधकार के राज्य से! इस बार वह मिस्त्र के गुलामी से नही, मगर पाप के जीवन से आजादी दे रहा था, ताकि हम सब मसीह में आजाद मनुष्य बन जाए!

प्रियो, यीशु ही परमेश्वर का वह मेम्ना है जो आपको आजादी देने के लिए बलिदान हुआ। और जब पुत्र आपको आजादी दे तो आप सचमुच आजाद है।

प्रार्थना और घोषणा

प्यारे पिता, आपको धन्यवाद कि आपने मेरे और मेरे परिवार के लिए यीशु को भेजा। मुझेे पता है कि उद्धार मेरे घराने के उपर है, क्योकि मैने यीशु को अपना उद्धारकर्ता ग्रहण किया है। प्रभु आपको धन्यवाद क्योंकि मेरा परीवार और मै उद्धार के आशीषो का लाभ उठा रहे है। जब यीशु का लहु हमारे उपर है तो हम अंधकार की शक्तियों से शुरक्षित है। यीशु के नाम से, आमीन!

Comments (5)

5 thoughts on “एक मेम्ना एक घर के लिए”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Leave Your Comment